लकड़ी के कोल्हू में उत्पादित कच्चे खाद्य तेल को स्वास्थ्य के लिए सबसे अच्छे विकल्प के रूप में शास्त्रों व वैद्यों द्वारा बताया जाता है।

लकड़ी के कोल्हू मैं तेल का तापमान 30 ° C तक रहता है, व एक्सपेलर में यह तापमान बहुत ज्यादा हो जाता है, जिसकी वजह से तेल के अंदर के पोषक तत्व नष्ट हो जाते हैं।

चूँकि लकड़ी का कोल्हू तापमान को बढ़ने नहीं देता है, इसलिए इसे कोल्ड प्रेस्ड ऑयल कहते हैं। वैज्ञानिकों व हेल्थ डॉक्टरों का कहना है कि कुकिंग ऑयल पहली बार रसोई में जाकर ही गर्म होना चाहिए, दूसरी बार गर्म होने वाले तेल में टॉक्सिंस (Toxins) पैदा हो जाते हैं जो शरीर के लिए हानिकारक है।

लकड़ी के कोल्हू में उत्पादित तेल में एचडीएल (HIGH DENSITY LIPOPROTEIN) का उत्पादन होता है जो शरीर के लिए महत्वपूर्ण है।

लकड़ी के कोल्हू के तेल को खाने से रक्तचाप कंट्रोल में रहता है, व मोटापा भी नहीं बढ़ता, व घुटने और जोड़ों के दर्द को कम करता है। यह मिनरल्स और विटामिन से समृद्ध होता है, जो शरीर के लिए महत्वपूर्ण है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *